Breaking
Fri. Apr 19th, 2024
Dhanteras 2023

Dhanteras 2023 : धनतेरस का शुभ त्योहार, जिसे धनत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है आ गया है। हिंदू कैलेंडर के कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष के तेरहवें चंद्र दिवस पर यह पर्व मनाया जाता है। इस साल शुक्रवार, 10 नवंबर को पुरे देश में इस महत्वपूर्ण अवसर को बहुत धूमधाम से मनाया जायेगा। इस दिन लोग समृद्धि और भाग्य की देवी, देवी लक्ष्मी का सम्मान करते हैं।

इस दिन को नई वस्तुओं की खरीदारी के लिए बेहद शुभ माना जाता है। यह दिन पांच दिवसीय दिवाली उत्सव की शुरुआत का प्रतीक है। ‘धनतेरस’ शब्द का अर्थ ही ‘धन’ (धन) और ‘तेरस’ (तेरहवां) होता है और माना जाता है कि इस दिन महत्वपूर्ण खरीदारी करने से व्यक्ति के जीवन में धन समृद्धि आती है। आज हम आपको कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको इस (Dhanteras 2023) अवसर पर खरीदनी चाहियें।

Dhanteras 2023 : धनतेरस पर खरीदने के लिए 10 शुभ चीजें

बर्तन

धनतेरस पर अपने रसोई के बर्तनों को फिर से भरना एक अच्छा विचार है, क्योंकि उन्हें सफलता का प्रतीक माना जाता है। पीतल, तांबे, चांदी या मिट्टी से बने रसोई के बर्तनों से प्रसाद तैयार करें।

चाँदी की वस्तुएँ

चांदी एक कीमती धातु जो धनतेरस के दौरान बेहद शुभ मानी जाती है। घर में धन और समृद्धि के लिए आभूषण, सिक्के या चांदी के बर्तन खरीद सकते हैं।

तेल के दीपक और दीये

धनतेरस की मुख्य परंपराओं में से एक तेल के दीपक जलाना है, जिन्हें दीये कहा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इन दीयों की रोशनी देवी लक्ष्मी को आपके घर में खींच लाती है और बुरी आत्माओं और निराशा को दूर कर देती है।

झाड़ू

आप इस दिन झाड़ू भी खरीद सकते हैं, क्योंकि यह भाग्यशाली और शुभ माना जाता है। इस शुभ दिन पर घर के लिए झाड़ू खरीदने का मतलब है कि घर से दरिद्रता दूर हो जाएगी।

गोमती चक्र

गोमती नदी के किनारे एक असामान्य शंख का घर है जिसे गोमती चक्र के नाम से जाना जाता है। देवी लक्ष्मी की पूजा करने वाले अधिकांश हिंदुओं द्वारा इसे पवित्र माना जाता है। इसका इस्तेमाल अक्सर दिवाली के अवसर पर पूजा के लिए किया जाता है।

इलेक्ट्रॉनिक आइटम

धनतेरस मोबाइल फोन, टीवी या अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को अपग्रेड करने का सही समय है। धनतेरस के दौरान आप नए गैजेट खरीदकर दिवाली सेल का लाभ उठा सकते हैं और काफी पैसे बचा सकते हैं।

आभूषण

सोने को सफलता और धन का प्रतीक माना जाता है। यह एक उत्कृष्ट निवेश भी है, जो कभी बर्बाद नहीं होता। कठिन समय में लोग दीर्घकालिक संपत्ति के रूप में इस पर भरोसा करते हैं। भारत में सोना खरीदने के दो सबसे शुभ समय धनतेरस और दिवाली के आसपास हैं।

सोने और चाँदी के सिक्के

धनतेरस के दौरान सबसे ज्यादा खरीदारी सोने और चांदी के सिक्कों की होती है। इस शुभ दिन पर इन सिक्कों को खरीदने की प्रथा है, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यह सफलता, धन और सौभाग्य लाता है।

देवी-देवताओं की मूर्तियाँ

धनतेरस और दिवाली के दौरान देवी-देवताओं की मूर्तियों का महत्वपूर्ण महत्व होता है। इन मूर्तियों को खरीदना और स्थापित करना एक आम प्रथा है और यह भक्ति और पूजा का प्रतीक है।

नये कपड़े

धनतेरस पर नए कपड़े खरीदना एक परंपरा है, जो दिवाली समारोह के लिए ताजा और सुंदर की शुरुआत का प्रतीक है। नए कपड़े नवीकरण और उत्सव की भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *