Breaking
Tue. Jul 16th, 2024
Bharat NCAP

देश में सुरक्षित कारों को बढ़ावा देने और खरीदारों को नई कार खरीदते समय सोच-समझकर निर्णय लेने में मदद करने के लिए इस साल की शुरुआत में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम को लॉन्च किया गया था। Bharat NCAP ने अब घोषणा की है कि टाटा हैरियर और सफारी भारत की पहली कारें हैं, जिन्होंने उनके द्वारा किये गए क्रैश टेस्ट में हिस्सा लिया है।

टाटा सफारी और हैरियर ने भारत एनसीएपी के क्रैश टेस्ट में वयस्क यात्री सुरक्षा के साथ-साथ बाल यात्री सुरक्षा दोनों में ही एक आदर्श 5 स्टार सुरक्षा रेटिंग हासिल की है। अपने सोशल मीडिया हैंडल पर इस उपलब्धि की घोषणा करते हुए, Bharat NCAP ने कहा कि दोनों एसयूवी का फ्रंटल इम्पैक्ट, साइड इम्पेक्ट के साथ-साथ पोल साइड इम्पेक्ट के लिए परीक्षण किया गया। सफारी और हैरियर को पहले ग्लोबल एनसीएपी द्वारा ‘भारत के लिए सुरक्षित कारें’ कार्यक्रम के तहत परफेक्ट फाइव-स्टार क्रैश टेस्ट रेटिंग मिल चुकी है।

Bharat NCAP क्रैश टेस्ट में दोनों गाड़ियों का स्कोर

हैरियर और सफारी को वयस्क सुरक्षा के लिए अधिकतम 32 में से 30.08 अंक मिले, वहीं बच्चों की सुरक्षा के लिए 49 में से 44.54 अंक। यह स्कोर नई टाटा हैरियर और टाटा सफारी फेसलिफ्ट के सभी वेरिएंट पर लागू होता है, जो कुछ महीने पहले ही देश में लॉन्च किए गए थे। कृपया ध्यान दें कि भारत एनसीएपी क्रैश टेस्ट अभी स्वैच्छिक है।

टाटा मोटर्स एसयूवी के साथ प्रस्तावित सुरक्षा सुविधाओं में सात एयरबैग, इलेक्ट्रॉनिक स्थिरता नियंत्रण, हिल असिस्ट, एक 360-डिग्री कैमरा, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, दूसरी पंक्ति में ISOFIX चाइल्ड सीट एंकरेज, साथ ही उन्नत ड्राइवर सहायता प्रणाली जैसे अनुकूली क्रूज़ नियंत्रण, सामने टकराव की चेतावनी और बचाव, लेन सहायता, स्वायत्त आपातकालीन ब्रेकिंग, इत्यादि शामिल हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *