Breaking
Fri. Jun 14th, 2024
Lok Sabha Security Breach

Lok Sabha Security Breach : संसद हमले की 22वीं बरसी पर बुधवार को लोकसभा में एक बड़ा सुरक्षा उल्लंघन देखने को मिला। इस दौरान दो घुसपैठिए दर्शक दीर्घा से लोकसभा में कूद गए और सदन में तरफ भागने लगे। लोकसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गई और सांसद लोकसभा से बाहर आने लगे। नीली जैकेट पहने एक घुसपैठिए को लोकसभा के अंदर घूमते हुए पाए जाने पर हंगामा मच गया। सांसद और सिक्योरिटी ने उस शख्स को पकड़ लिया और पूछताछ करने लगे। जैसे ही सांसद लोकसभा से बाहर आए, उन्होंने कहा कि घुसपैठिए किसी तरह की गैस का छिड़काव कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल के बीजेपी सांसद खगेन मुर्मू लोकसभा में बोल रहे थे, तभी घुसपैठिए को लोकसभा के अंदर देखा गया। कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम ने कहा कि दोनों व्यक्तियों, जिनकी उम्र करीब 20 साल थी के हाथ में कनस्तर थे और उन कनस्तरों से पीला धुआं निकल रहा था। उन्होंने कहा, “उनमें से एक स्पीकर की कुर्सी की तरफ भागने की कोशिश कर रहा था। वे कुछ नारे लगा रहे थे। धुआं जहरीला हो सकता था। यह सुरक्षा का गंभीर उल्लंघन है, खासकर 13 दिसंबर को, जिस दिन 2001 में संसद पर हमला हुआ था।”

Lok Sabha Security Breach : लोकसभा में कुछ भी हो सकता था

यह घटना एक बड़ी सुरक्षा चूक के रूप में सामने आई, हालांकि जब यह घटना हुई तो दर्शक दीर्घा में गार्ड मौजूद थे। समाजवादी पार्टी की सांसद डिंपल यादव ने कहा कि आगंतुक टैग नहीं रखते हैं और यह घटना दर्शाती है कि सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए। डिंपल यादव ने कहा, ”लोकसभा के अंदर कुछ भी हो सकता था।”

तृणमूल नेता सुदीप बंद्योपाध्याय ने कहा, “यह एक भयानक अनुभव था और कोई भी यह अंदाज़ा नहीं लगा पाया कि उनका उद्देश्य क्या था और वे ऐसा क्यों कर रहे थे। हम सभी तुरंत सदन से बाहर निकल गए, लेकिन यह एक सुरक्षा चूक थी। वे धुआं छोड़ने वाले उपकरणों के साथ कैसे प्रवेश कर सकते थे?”

कांग्रेस के लोकसभा नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “दोनों युवक गैलरी से कूदे और उन्होंने कुछ फेंका, जिससे गैस निकल रही थी। उन्हें सांसदों द्वारा पकड़ा गया और सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बाहर निकाला। सदन दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। यह निश्चित रूप से एक सुरक्षा उल्लंघन है, क्योंकि आज हमने 2001 में अपने प्राणों की आहुति देने वाले लोगों की बरसी मनाई।”

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *