Breaking
Fri. Jun 14th, 2024
Dussehra 2023

Dussehra 2023 : जैसा कि आप जानते हैं आज देशभर में बड़ी ही धूम धाम से दशहरे का त्योंहार मनाया जायेगा। 9 दिनों तक नवरात्रों का व्रत करने के बाद इस दिन भगवान राम की जीत को लोग बड़े ही उत्साह के साथ मनाते हैं। भारत में कोई भी त्योंहार मनाया जाए तो खान-पान का विशेष महत्व रहता है। दशहरे के दिन पूरे देश में कई तरीकों से इस पर्व को सेलिब्रेट किया जाता है।

दशहरे के दिन विभिन्न जगहों पर रिवाज है जिसके तहत कुछ खास चीज़ों का सेवन किया जाता है। भगवान राम का जन्म अयोध्या में हुआ था, जो आज के समय उत्तर प्रदेश में स्थित है। यूपी में इस दिन कुछ खास चीज़ों के खान-पान का रिवाज है, जैसे मिठाई के साथ घर में पान लाया जाता है। दशहरे के दिन इन चीजों को इन चीज़ों को जोड़ा जाता है शुभता से।

Dussehra 2023 : पान

उत्तर प्रदेश में दशहरे के त्योंहार पर पान का सेवन करने को लोग शुभ मानते हैं। इस दिन लोग रावण जलाने के बाद एक-दूसरे को मिठाई और पान खिलते हैं। वहीं कुछ लोगों द्वारा हनुमान जी को पान चढ़ाकर उसे खाया जाता है। आपको बता दें हिंदू धर्म में पान को पूजा-पाठ और शुभ कार्यों के दौरान काम में लिया जाता है। इसे विजय, मान-सम्मान और प्रेम का प्रतीक माना जाता है।

Dussehra 2023 : यह है साइंस

वैज्ञानिक दृष्टिकोण के अनुसार पान में कई तरह के ऐंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो बदलते मौसम के कारण होने वाले संक्रमणों से हमारी रक्षा करते हैं। वहीं कुछ लोग नवरात्र के दौरान 9 दिन तक व्रत रखते हैं, ऐसे में उनके डाइजेशन को सही रखने के लिए भी पान का सेवन किया जाता है।

रसगुल्ला

दशहरे के दिन छेने का रसगुल्ला खाना भी शुभ माना जाता है। बंगाल में दुर्गा पूजा एक बहुत बड़ा त्योहार है और इसके बाद दशहरा (Dussehra 2023) भी बड़े जोश के साथ मनाया जाता है। वहां रसगुल्ले को शुभता का प्रतीक मानते हैं।

मीठा डोसा

दशहरे के दिन कर्नाटक में गेहूं-चावल के आटे, गुड़, घी एवं इलायची पाुडर से मीठा डोसा बनाया जाता है, जिसका भोग भगवान को लगाया जाता है।

दही-चीनी

दही को भी गुडलक से जोड़कर देखा जाता है और किसी भी शुभ काम के लिए जाने से पहले अक्सर लोग इसका सेवन करते हैं। दशहरे के दिन भी कुछ जगहों पर भगवान राम को दही-चीनी का भोग लगाया जाता है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *