Breaking
Fri. Apr 12th, 2024
Hair Loss Treatment

Hair Loss Treatment : गंजेपन या अत्यधिक बाल झड़ने की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है। विशेषज्ञों ने दावा किया है कि खून से भी बाल वापस उगाए जा सकते हैं। उनके दावे के मुताबिक झुर्रियों का भी इलाज किया जा सकता है। इंडियन सोसायटी ऑफ ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन के अध्यक्ष डॉ. देबाशीष गुप्ता ने कहा कि, ”सिर्फ 20 मिलीलीटर खून लगाने से सिर पर बाल उग जायेंगे और चेहरे की खूबसूरती भी बढ़ जाएगी।”

डॉ. गुप्ता चंडीगढ़ के एक होटल में इंडियन सोसाइटी ऑफ ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन के राष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान बात कर रहे थे, जहां उन्होंने लोगों को रक्त से बालों के विकास के बारे में बताया। डॉ. गुप्ता ने बताया कि प्लेटलेट्स बढ़ सकते हैं। “इसके इस्तेमाल से गठिया और स्पॉन्डिलाइटिस का इलाज किया गया है। इसी कड़ी में गंजेपन का इलाज ढूंढने की कोशिश में खून से बाल उगाने पर शोध किया गया। जैसे ही नतीजे सकारात्मक आए हैं, अब लोगों का इलाज किया जा रहा है।”

Hair Loss Treatment : शुरू हो चुका है इलाज

डॉ. गुप्ता ने कहा कि, “वर्तमान में विदेशों में खून से बाल उगाए जा रहे हैं और भारत के कुछ शहरों में भी गंजेपन का इलाज खून से किया जा रहा है। इससे कई लोगों को फायदा हो रहा है, लेकिन फिर भी हममें से अधिकतर लोग इस तकनीक से वाकिफ नहीं हैं।” डॉ. गुप्ता के मुताबिक, खून से निकाले गए प्लेटलेट्स से गंजेपन का इलाज करने से संक्रमण से भी बचाव होगा।

उन्होंने कहा, “बाल किसी दूसरे व्यक्ति के खून से भी उगाए जा सकते हैं। ऐसा करने पर भी संक्रमण नहीं होगा। बाल उगाने के लिए प्लेटलेट्स को गंजे हिस्से में इंजेक्ट किया जाता है। प्लेटलेट्स उस क्षेत्र में बंद विकास कारकों को छोड़ देते हैं, जिससे बालों के रोम बाहर आ जाते हैं और बाल बढ़ने लगते हैं। बाल कूप के ऊपर एक छेद होता है, जहां से बाल निकलते हैं और फिर धीरे-धीरे उनकी लंबाई बढ़ने लगती है।” उन्होंने कहा कि इस तकनीक कि सहायता से लोग फिर से युवा दिख सकते हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *